CORONA AWARENESS idea.

Written by

बेहद सम्मानीय
मेरे माननीय महोदय जी आपके समक्ष में एक अपना भाव रखना चाह रहा हूं जो कि कोरोनावायरस से बंधित है
यह उपाय कोई दवा के रूप में नहीं है बल्कि एक खानपान के बदलाव के बारे में है महोदय जी मेरा मानना है कि जैसे घर के जरूरी सामग्री के लिए व्यक्ति को 24 घंटे में एक बार अपने घर से बाहर जरूर जाना होता है चाहे वह आटा दाल पानी खाना दूध और ऐसी अति आवश्यक रोजमर्रा के जीवन यापन के लिए कुछ ना कुछ सामग्री लेने के लिए वह रोज अपने घर से ही एक बार निकल रहा है माननीय महोदय जी मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि वह अपने खान-पान पर जरा सा नियंत्रण करें साथ ही साथ खान-पान के समय में भी बदलाव करें क्योंकि ना तो ऐसे समय में कोई शारीरिक कसरत कर पा रहे हैं
तो ऐसे समय में क्या बदलाव कर सकता है ………
अपने समय सारणी को लेकर उसके बारे में मेरा एक सुझाव है …………
महोदय सुझाव यह है कि यदि व्यक्ति सुबह के समय जा रहा है तो अपना पूर्ण भोजन करने के बाद ही अपने घर से जाए
कोई भी सामग्री खरीदने के लिए जाए जिससे जब लौट कर के आए तो उसे कोई भी वायरस यदि लग जाता है तो वह उसे अपने खाने की सामग्री में शामिल ना कर पाए ……..
यदि कोई सामग्री लेने गया है और भगवान ना करे कोई वायरस अटैक करता है अगर उसको साथ ले करके आता है और रात खाना खाता है तो वायरस के माध्यम से परिवार को बांट देगा यह रोग सबको हो जाएगा l
यदि व्यक्ति शाम के समय जा रहा है तो भी पूर्ण भोजन करने के बाद ही शाम को अपनी सामग्रियां लेने के लिए जाए जिससे कि उसे फिर सुबह ही खाने की आवश्यकता पड़े यदि हम अपने खानपान के साथ-साथ जरा सा यह समय का परिवर्तन भी कर ले
समय का जरा से खानपान का बदलाव भी कर ले तो हम कोरोनावायरस से उस व्यक्ति को तो बचा ही सकते जो हमारे लिए जरूरत का सामान लेने के लिए घर से बाहर जा रहा है बल्कि हम खुद भी बच सकते हैं अगर वह कोई ऐसी वायरस लेकर के आ जाता है तो हम उसको भी बचा सकते हैं और उसके माध्यम से हम भी बच सकते हैं
धन्यवाद महोदय
विनोद कुमार
96509 26396.

Article Tags:
Article Categories:
US & World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares